थाना घेरने पहुंचे महासमुंद विधायक चोपड़ा और समर्थकों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

महासमुंद (छत्तीसगढ़).बैडमिंटन की महिला खिलाड़ियों से छेड़छाड़ के मामले में थाने का घेराव करने पहुंचे लोगों पर पुलिस ने जमकर लाठी चार्ज किया। इसमें विधायक विमल चोपड़ा गंभीर रूप से घायल हो गए। उनके शरीर पर चोटों के कई निशान हैं। भीड़ के पथराव में एक सिपाही का सिर फूट गया। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। देर रात कोतवाली परिसर और आसपास धारा-144 लगा दी गई है। मिनी स्टेडियम में बैडमिंटन की तैयारी के दौरान एक महिला खिलाड़ी से छेड़छाड़ हुई थी। इसी मामले की शिकायत करने के लिए कुछ युवक थाने पहुंचे। इनमें से एक युवक से पुलिस अफसर ने दुर्व्यवहार किया। इसके बाद वे विधायक विमल चोपड़ा के पास पहुंचे। विधायक इन युवकों को साथ लेकर थाने गए। यहां बताया जाता है कि विधायक के साथ भी आईपीएस  ने दुर्व्यवहार किया।

– इसके बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। विधायक के नेतृत्व में उन्होंने थाने का घेराव कर दिया। इससे गुस्साए पुलिस अफसर ने लाठीचार्ज के आदेश दे दिए। पुलिसवालों ने विधायक को भी नहीं बख्शा। उनकी पीठ, हाथ पर चोट के कई निशान है।

– घायल विधायक और सिपाही को अस्पताल भेजा गया। आईपीएस उदय किरण को ऐसे ही विवादों के बाद बिलासपुर से हटाया गया था। कुछ दिन पीएचक्यू में रखने के बाद हाल ही में महासमुंद पोस्टिंग की गई थी।

छेड़छाड़ की शिकायत से शुरू हुआ विवाद, लाठीचार्ज में विधायक घायल

– महासमुंद के मिनी स्टेडियम में प्रैक्ट्रिस कर रही महिला खिलाड़ियों से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। छेड़छाड़ की शिकायत करने पहुंचे बैडमिंटन संघ के लोगों से पुलिस वालों ने दुर्व्यवहार किया। आईपीएस उदय किरण ने उन्हें भगा दिया।

– घटना को लेकर रात 11 बजे विधायक विमल चोपड़ा ने थाने का घेराव कर दिया। पुलिस ने भीड़ पर लाठियां बरसाईं। लाठीचार्ज में विधायक व सिपाही समेत अन्य घायल हो गए।

– देर रात तक प्रदर्शन चलता रहा। आईपीएस उदय को हाल ही में बिलासपुर से आंदोलन के बाद हटाया गया था। वहां उन पर आए दिन दुर्व्यवहार करने का आरोप लगा था। जानकारी के अनुसार मिनी स्टेडियम में महिला खिलाड़ी प्रैक्टिस कर रहे थे।

– वहां के युवकों ने मैदान में घुसकर खिलाड़ियों से दुर्व्यवहार किया। खिलाड़ियों ने अपने संघ के पदाधिकारी अंकित लुनिया को इसकी सूचना दी। अंकित ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट लिखाने गए। जहां पुलिस वालों ने उनकी शिकायत नहीं ली और दुर्व्यवहार करके भगा दिया। उल्टा उनके खिलाफ ही केस दर्ज कर दी।

– अंकित ने इसकी जानकारी विधायक विमल चोपड़ा को दी। विधायक खिलाड़ियों को लेकर शिकायत करने पहुंचे। जहां सब इंस्पेक्टर समीर डुमडुम ने उन्हें भीतर जाने नहीं दिया। उन्हें पहचानने से भी इनकार कर दिया।

– घटना की सूचना मिलने पर आईपीएस उदय किरण मौके पर पहुंचे। उन्होंने भी विधायक से दुर्व्यवहार किया। वहां धक्का-मुक्की की नौबत आ गई थी। देर रात स्थानीय लोगों ने थाने का घेराव कर दिया।

– थाने के सामने धरने पर बैठ गए। जमकर नारेबाजी करने लगे। पुलिस ने इसी दौरान भीड़ पर लाठीचार्ज कर दिया। इससे विधायक भी घायल हो गए।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें