ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया के खिलाफ बढ़ाई नेशनल इमरजेंसी, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बताया खतरा

ट्रंप ने कहा कि जब तक परमाणु निरस्त्रीकरण पूरा नहीं होता तब तक वह अधिकतम दबाव बनाने का अभियान जारी रखेंगे और उत्तर कोरिया के खिलाफ कोई भी प्रतिबंध नहीं हटाएंगे.

ट्रंप ने कहा, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए अब भी खतरा पेश करता है उत्तर कोरिया. (फाइल फोटो)

वाशिंगटन: अमेरिका के ने उत्तर कोरिया के खिलाफ राष्ट्रीय आपात (नेशनल इमरजेंसी) की अवधि 22 जून को एक और साल के लिए बढ़ा दी. उन्होंने कहा कि अब भी अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति और अर्थव्यवस्था के लिए ‘‘असामान्य और असाधारण’’ खतरा पेश करता है. ट्रंप की यह टिप्पणी तब आई है जब एक पखवाड़े से भी कम समय पहले उन्होंने सिंगापुर में किम जोंग उन के साथ ऐतिहासिक शिखर वार्ता की जिसमें उत्तर कोरियाई नेता परमाणु निरस्त्रीरकण के लिए राजी हुए.

ट्रंप ने कहा कि जब तक परमाणु निरस्त्रीकरण पूरा नहीं होता तब तक वह अधिकतम दबाव बनाने का अभियान जारी रखेंगे और उत्तर कोरिया के खिलाफ कोई भी प्रतिबंध नहीं हटाएंगे. आपको बता दें कि, ट्रंप से पहले अमेरिका के राष्ट्रपति रह चुके बुश और ओबामा ने उत्तर कोरिया के खिलाफ नेशनल इमरजेंसी लागू की थी. हालांकि, 12 जून को सिंगापुर में हुई  की बात-चीत के बाद किए गए ट्रंप के बयान का कार्यकारी आदेश ने विरोध किया था.

ट्रंप ने अपने इस बयान में कहा था, भविष्य के लिए उत्तर कोरिया के पास काफी संभावना है. ट्रम्प ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि अमेरिका के लिए उत्तर कोरिया अब कोई परमाणु खतरा नहीं है. अमेरिकियों और शेष दुनिया को ‘‘आज रात चैन की नींद सोना चाहिए.’’ इसके अलावा ट्रंप ने एक और बयान में कहा था कि उत्तर कोरिया अब उनके लिए खतरा नहीं रहा. उन्होंने कहा, किम जोंग उन के साथ ऐतिहासिक शिखर सम्मेलन के बाद उत्तर कोरिया अब अमेरिका के लिए कोई परमाणु खतरा नहीं है. ट्रम्प ने वापस वॉशिंगटन पहुंचते ही ट्वीट किया था कि, ‘‘अभी-अभी पहुंचा हूं, लेकिन मेरे कार्यभार संभालने के दिन के मुकाबले अब हर कोई अधिक सुरक्षित महसूस कर रहा है.’’


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें