बारिश से पहले कर दिया झुग्गीवासियों को बेघर

भेल ने हटाया अतिक्रमण
सच प्रतिनिधि ॥ भोपाल
भेल उद्योग नगरी की खाली जमीन पर अतिक्रमणकारियों की निगाह लगी हुई है। विगत दो माह में गोविंदपुरा, पिपलानी, हबीबगंज और बरखेड़ा क्षेत्र में लगातार नई-नई झुग्गियां माफियाओं के ईशारे पर बनती जा रही है। यही नहीं माफिया मनमानी रकम लेकर न केवल झुग्गियां बना रहे हैं बल्कि बनने के बाद इनको ऊंचें दामों में बेचने का बेखौफ काम कर रहे हैं। भेल क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली भूमि पर बनी झुग्गियों को हटाने का कार्य भेल नगर प्रशासन विभाग द्वारा किया जा रहा है।
बताया जाता है कि गोविन्दपुरा क्षेत्र के पुराना नगर में देखने जब यहां करीब दो दर्जन से ज्यादा नई झुग्गियां बनकर तैयार हो गई। इन झुग्गियों को पुरानी दिखाने के लिए बकायदा पेंट कर दिया गया। नगर प्रशासन के बेदखली अमला सूचना मिलते ही गोविन्दपुरा क्षेत्र में पहुंच गया। अमले ने ताबड़तोड़ कार्यवाही करते हुए पुराना नगर झुग्गी बस्ती में बनाई गई नई झुग्गियों को जेसीबी मशीन से उखाड़ फेंका। इस दौरान अतिक्रमणकारियों और भेल के बेदखली अमले के बीच काफी झड़पे भी हुई लेकिन अमले ने इसे पूरी तरह तहस-नहस कर दिया। इस मामले में झुग्गीवासियों का कहना है कि बारिश से बचने के लिए उन्होंने यहां झुग्गियां बनाई थी, जिसे तोड़ दिया गया है।
अब बारिश के दिनों में कहां और कैसे रहेंगे इसका संकट यहां के लोगोंं पर मंडरा रहा है। इधर भेल नगर प्रशासन विभाग के अपर महाप्रबंधक अनंत टोप्पों ने बताया कि करीब आधा एकड़ भूमि को अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराया है। उन्होंने बताया कि दूसरी कार्यवाही में गोविन्दपुरा बी सेक्टर में स्थित पुराने आवासों में गाय-भैसंों का तबेला अतिक्रमणकर चलाया जा रहा है। करीब चार भेल के आवासों में यह काम चल रहा था। डेयरी संचालकों से चार आवासों को मुक्त कराकर अतिक्रमणकारियों को चेतावनी भी दी है। प्रशासक ने बताया कि भेल उद्योग नगरी में अतिक्रमण विरोधी कार्यवाही लगातार जारी रहेगी।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें