मोदी के संसदीय क्षेत्र का तापमान बढ़ाने आएंगे उद्धव

वाराणसी। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के वाराणसी और अयोध्या आने की जानकारी के बाद शिवसैनिकों में उत्साह बढ़ गया है। अयोध्या में श्रीरामलला के दर्शन पूजन के बाद वाराणसी में श्री काशी विश्वनाथ और श्रृंगारगौरी के दर्शन पूजन की योजना बनाई जा रही है। शिवसेना के उप राज्य प्रमुख अजय चौबे ने बताया कि शिवसैनिक हर बार की तरह इस बार भी सावन के अंतिम सोमवार को श्रृंगारगौरी का जलाभिषेक करने जाएंगे। इस साल के अंत में शिवसेना अध्यक्ष आएंगे और एजेंडे के तहत दर्शन पूजन भी करेंगे। राजनीतिक जानकारों ने संभावना व्यक्त की है कि शिवसेना अध्यक्ष के आगमन से वाराणसी में राजनीतिक का तापमान बढ़ेगा।
भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी शिवसेना अब राम मंदिर और गंगा सफाई के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए नई मुश्किलें खड़ी करने की कोशिश शुरू कर दी है। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे अयोध्या और वाराणसी जाने की तैयारी कर रहे हैं। शिवसेना की ओर से मुंबई में चलो अयोध्या चलो वाराणसी के होर्डिंग लगाए गए हैं।
उद्धव ठाकरे के बनारस और अयोध्या जाने पर भाजपा के दिक्कतें बढ़ जाएगी। शिवसेना भाजपा पर दबाव बनाने के लिए उन क्षेत्रों में भी जाने की योजना बना रही है जहां भाजपा का वर्चस्व है। इसके लिए शिवसैनिकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। शिवसेना अपना दायरा बढ़ाने के लिए सदस्यता अभियान चलाने जा रही है। जिस हिंदुत्व के नाम पर भाजपा राजनीति कर रही है। उसी हिंदुत्व कार्ड के जरिए शिवसेना भाजपा को घेरेगी। सूत्रों की मानें तो इस बार लोकसभा चुनाव के दौरान कई सीटों पर चुनाव भी लडऩे की संभावना जताई जा रही है।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें