चेन्‍नई : करुणानिधि के निधन के बाद उन्‍हें भारत रत्‍न दिए जाने की उठी मांग

बुधवार को मीडिया से बात करते हुए थिरुमवलवन ने कहा कि ‘हम मांग करते हैं कि भारत रत्न से उन्हें सम्मानित किया जाए.

डीएमके प्रमुख करुणानिधि (फाइल फोटो)

चेन्‍नई : डीएमके प्रमुख करुणानिधि के निधन के बाद उन्‍हें भारत रत्‍न से सम्‍मानित करने की मांग उठी है. विदुथलाई चिरुथईगल काछी (VCK) के प्रमुख थोल थिरुमवलवन ने करुणानिधि को भारत रत्‍न दिए जाने की मांग की है. साथ ही उन्‍होंने यह भी मांग उठाई कि अन्ना समाधि के पास उनका स्मारक बनाया जाए.

बुधवार को मीडिया से बात करते हुए थिरुमवलवन ने कहा कि ‘हम मांग करते हैं कि भारत रत्न से उन्हें सम्मानित किया जाए. हम यह भी मांग करते हैं कि अन्ना समाधि के पास उनका स्मारक बनाया जाए’.

उल्‍लेखनीय है कि द्रविड़ आंदोलन के नायकों में शुमार एम करुणानिधि का मंगलवार शाम निधन हो गया था. उनकी पार्टी द्रमुक (डीएमके) करुणानिधि को चेन्‍नई के मरीना बीच पर दफनाने के लिए अड़ गई है. वहीं, राज्‍य सरकार ने उनको यहां स्‍पेस देने से इस आधार पर इनकार कर दिया कि यदि मुख्‍यमंत्री के पद पर रहते हुए उनका निधन होता तो यहां अंतिम संस्‍कार होता. दूसरी वजह रीना बीच के पर्यावरण की भी है. जयललिता की मृत्‍यु के बाद अभी तक यहां उनका मेमोरियल पूर्ण रूप से नहीं बन सका है. राज्‍य सरकार अन्‍यत्र दफनाने के लिए आग्रह करती रही है, लेकिन द्रमुक अपने नेता को मरीना बीच पर ही दफनानी चाहती है.

इस बारे में मद्रास हाईकोर्ट में बुधवार सुबह 8 बजे से इस मामले पर सुनवाई शुरू हुई. इस दौरान तमिलनाडु सरकार ने अपना जवाब दाखिल कर कहा कि मरीना बीच पर जगह नहीं है. तमिलनाडु सरकार ने अपने हलफनामे ने कहा कि मरीना बीच पर अंतिम संस्कार को सिर्फ मौजूदा मुख्यमंत्रियों को ही मरीना बीच पर अंतिम संस्कार के लिए जगह दी गई है. सरकार ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्रियों का अंतिम संस्कार गांधी मंडपम में किया गया है, क्योंकि करुणानिधि मौजूदा मुख्यमंत्री नहीं हैं, इसलिए उनका अंतिम संस्कार भी गांधी मंडपम में किया जाना चाहिए.

उधर, द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि को अंतिम विदाई देने के लिए बुधवार सुबह राजाजी हॉल में बड़ी संख्या में लोगों की कतारें लग गईं. करुणानिधि का कल लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम, लोकसभा के उपसभापति एम थंबीदुरई, राज्य के वरिष्ठ मंत्री, एएमएमके नेता और आरके नगर से विधायक टीटीवी दिनाकरण, सुपरस्टार रजनीकांत और उनके परिवार तथा अभिनेता शिवकार्तिकेयन ने करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी. पत्रकारों से बातचीत में पलानीस्वामी ने कहा कि करुणानिधि का निधन ‘‘तमिलनाडु के लिए भारी क्षति’’ है. उन्होंने द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता एम के स्टालिन, करुणानिधि के परिवार तथा द्रमुक कार्यकर्ताओं के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें