फरार रेत डंपर मालिक सीएम के साथ थे अटल अस्थि कलश यात्रा में: अजय

BHOPAL, 27/06/2012: Leader of the Opposition in Madhya Pradesh Assembly Ajay Singh Rahul addressing a press conference in connection with the relation of Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan with Dilip Suryavanshi and Sudhir Sharma._Photo: A.M. Faruqui

विशेष संवाददाता ॥ भोपाल
नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक ओर अवैध रेत उत्खनन और परिवहन करने वालों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश देते हैं और दूसरी ओर जिस व्यक्ति का डंपर होशंगाबाद जिले में अवैध रेत परिवहन करते हुए पकड़ा गया उसके मालिक को जो फरार है उसे अपने साथ लेकर घूमते हैं।
सिंह ने कहा कि इन लोगों को मुख्यमंत्री का संरक्षण होने के कारण जिला पुलिस और प्रशासन र्कावाही नहीं कर पाता है। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि होशंगाबाद जिले के छानाबढ और तवातट से अवैध रेत उत्खनन का परिवहन करने हुए आठ से अधिक डंपर पकड़ गए। इनमें विजय सिंह राजपूत का डंपर एमपी 05 जी 78 46 भी शामिल है। इसका आरटीओ में रजिस्ट्रेशन में जो पता लिखा है वह होशंगाबाद का है और विजय सिंह राजपूत बुधनी में रहते हैं और इनकी पत्नी वहां की नगरीय निकाय की अध्यक्ष भी है । सिंह ने कहा कि यही व्यक्ति जब मुख्यमंत्री 25 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश लेकर बुधनी गए तो उस ट्रक में मौजूद था।
यह व्यक्ति पकड़े गए डंपर के मालिक होने के नाते पुलिस की नजर में अवैध रेत उत्खनन और परिवहन का आरोपी है और फरार है लेकिन वह बेखौफ मुख्यमंत्री के साथ है। जबकि इसके दो दिन पूर्व 23 अगस्त को जब मुख्यमंत्री अपने गृह गांव जैत गए थे तब ग्रामीणों ने उन्हें घेर कर कहा था कि डंपर लोगों की जान ले रहा है रेत चोरी रुकवाओ। तब मुख्यमंत्री ने कलेक्टर से कहा कि अब नर्मदा से रेत का एक कण भी चोरी नहीं होना चाहिए । वहीं मुख्यमंत्री कलेक्टर एसपी के सामने रेत चोरी और अवैध परिवहन करने वाले डंपर मालिक को साथ में लेकर घूम रहे हैं।
नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि क्या ऐसे में कोई कलेक्टर एसपी कार्यवाही कर पाएगा। सिंह ने कहा मुख्यमंत्री इस तरह के नागरिकों को लगातार धोखा दे रहे हैं। वे स्वयं अवैध कारोवारियों को संरक्षण देते हैं और जनता के सामने अपनी ईमानदारी का बखान करते हैं। सिंह ने सवाल .किया कि क्या इसे मुख्यमंत्री की गलती कहेंगे या उनकी बेईमानी।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें