दिन में तीन बार रंग बदलता है अचलेश्वर महादेव शिवलिंग

भगवान शंकर का शिवलिंग रूप आदिकाल से भक्तों की आस्था का केन्द्र रहा है। इसलिए भगवान भी समय-समय पर अपने भक्तों को अपने होने का एहसास कराते रहते हैं। कुछ ऐसा ही वाकया एक मंदिर मे हर रोज घटता है जहां शिवलिंग दिन में तीन पर अपना रंग बदलता है। यह शिवलिंग विज्ञान के लिए भी जिज्ञासा का विषय बना हुआ है। कई बार लोगों ने शिवलिंग की खुदाई कर उसका अंत जानने की कोशिश कर पर हर बार नाकामी ही हाथ लगी। हम बात कर रहे हैं राजस्थान के धौलपुर जिले में स्थित अचलेश्वर महादेव शिवलिंग की जिसके कारण यह शिवलिंग सिर्फ श्रद्धालुओं के लिए ही नहीं बल्कि वैज्ञानिकों के लिए भी जिज्ञासा का केन्द्र बना हुआ है। धौलपुर जिले में राजस्थान और मध्यप्रदेश की सीमा पर स्थापित यह शिवलिंग अपने आप में बहुत खास है। यह शिवलिंग न की सिर्फ दिन में तीन बार रंग बदलता है बल्कि इसका कोई अंत भी नहीं है।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें