साढ़े तेरह हजार मेगावाट तक पहुंच सकती है बिजली की डिमांड

सच संवाददाता ॥ भोपाल
प्रदेश में त्यौहारों और रबी सीजन को देखते हुए बिजली कंपनियों ने लोगों को समय पर पर्याप्त बिजली मुहैया कराने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। कंपनी को उम्मीद है कि इस बार बिजली की डिमांड साढ़े 13 हजार मेगावाट तक पहुंच सकती है।
मपी पावर मैनेजमेंट कम्पनी के प्रबंध संचालक और तीनों विद्युत वितरण कम्पनियों के अध्यक्ष संजय कुमार शुक्ल ने दावा किया है कि त्यौहारों के साथ रबी सीजन के मद्देनजर तीनों विद्युत वितरण कम्पनियां निर्बाध बिजली आूपर्ति सुनिश्चित करेंगी। राज्य में 26 लाख कृषि पम्पों के लिए छह लाख 75 हजार 301 ट्रांसफॉर्मर से सप्लाई की जा रही है। उन्होंने बताया, रबी सीजन में बिजली की मांग साढ़े 13 हजार मेगावाट तक पहुंच सकती है। निर्बाध आपूर्ति के लिए अस्थाई ट्रांसफॉर्मर स्टोर रूम बनाए गए हैं। लोड बढने या घटने के समय ट्रांसफॉर्मर में खराबी आने पर तत्काल बदला जाएगा।
ट्रांसफार्मर ले जाने पर मिलेगा किराया
शुक्ल ने बताया, मुख्यमंत्री अस्थाई पम्प योजना के तहत प्रत्येक आवेदक को जल्द से जल्द पम्प मुहैया कराने के निर्देश हैं। यदि उपभोक्ता स्वयं के वाहन से ट्रांसफॉर्मर ले जाते हैं तो उन्हें इसका किराया भी दिया जाएगा। किसान टोल फ्री नम्बर 1912 पर समस्याएं बता सकते हैं।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें