विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने घोषित किए छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में उम्मीदवारों के नाम, 7 के काटे टिकट

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की 90 सीटों में से 77 सीटों पर बीजेपी ने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है.

उम्मीदवारों के नाम तय करने के लिए शनिवार को दिल्ली में बीजेपी चुनाव समिति की बैठक हुई.

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की 90 सीटों में से 77 सीटों पर बीजेपी ने प्रत्याशियों के नाम घोषित कर दिए हैं. बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति ने शनिवार को पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बैठक की थी. हालांकि, इस बैठक में केवल तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और मिजोरम के विधानसभा चुनावों को लेकर ही चर्चा की गई. इस बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री और समिति के सदस्य जेपी नड्डा ने घोषणा करते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ की 90 विधानसभा सीटों में से 77 पर प्रत्याशियों के नाम तय कर लिए गए हैं.

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के लिए बीजेपी की 77 प्रत्याशियों की पहली सूची में 14 सीटें महिलाओं को, 25 सीटें युवाओं को, 19 सीटें अनुसूचित जनजाति,10 सीटें अनुसूचित जाति को दी गई है. वहीं 53 सीटों पर किसान पृष्ठभूमि के प्रत्याशी, 3 सीटों पर मेडिकल पृष्ठभूमि के और 1 सीट पर पूर्व आईपीएस को प्रत्याशी बनाया गया है. कुल 14 सीटों पर परिवर्तन किया गया है. हाल ही में बीजेपी में शामिल होने वाले रायपुर के पूर्व  कलेक्‍टर ओपी चौधरी को पार्टी ने छत्तीसगढ़ की खरसिया विधानसभा क्षेत्र से अपना प्रत्याशी बनाया है. वहीं, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अपनी परंपरागत सीट राजनांदगांव से ही चुनाव लड़ेंगे.

प्रत्याशियों की लिस्ट
रायपुर दक्षिण से बृजमोहन अग्रवाल
रायपुर पश्चिम से राजेश मूणत
रायपुर ग्रामीण से नंदे साहू
अभनपुर से चंद्रशेखर साहू
आरंग से संजय ढीढी
धरसींवा से देवजीभाई पटेल
राजिम से संतोष उपाध्याय
बिंद्रा नवागढ़ से डमरूधर पुजारी
धमतरी से रंजना साहू
कुरूद से अजय चंद्राकर
नगरी सिहावा से पिंकी शिवराज शाह
खल्लारी से मोनिका साहू
कसडोल से गौरीशंकर अग्रवाल
भाटापारा से शिवरतन शर्मा
बिलाईगढ से डॉ.सनम जांगड़े
जगदलपुर से संतोष बाफना
नारायणपुर से केदार कश्यप
बीजापुर से महेश गागड़ा
बस्तर से सुभाऊ कश्यप
चित्रकोट से लच्छुराम कश्यप
कोंटा से धनीराम बारसे
दंतेवाड़ा से भीमा मंडावी
कांकेर-अंतागढ़ से विक्रम उसेंडी
भानुप्रतापपुर से देवलाल दुग्गा
कोंडागांव से लता उसेंडी
केशकाल से हरिशंकर नेताम
दुर्ग शहर से चंद्रिका चंद्राकर
दुर्ग ग्रामीण से जागेश्वर साहू
वैशालीनगर से राकेश पांडेय
भिलाईनगर से प्रेमप्रकाश पांडेय
पाटन से मोतीराम साहू
अहिवारा से सांवलाराम डहरे
साजा से लाभचंद बाफना
बेमेतरा से अवधेश चंदेल
राजनांदगांव से डॉ.रमन सिंह
डोंगरगढ़ से सरोजनी बंजारे
खैरागढ़ से कोमल जंघेल
डोंगरगांव से मधुसूदन यादव
खुज्जी से हिरेंद्र साहू
मोहला-मानपुर से कंचनमाला भूआर्य
कवर्धा से अशोक साहू
पंडरिया से मोतीलाल चंद्रवंशी
बिलासपुर से अमर अग्रवाल
बिल्हा से धरमलाल कौशिक
तखतपुर से हर्षिता पांडेय
मस्तुरी से कृष्णमूर्ति बांधी
मुंगेली से पुन्नूलाल मोहिले
लोरमी से तोखन साहू
मरवाही से अर्चना पोर्ते
बेलतरा से रजनीश सिंह
जांजगीर-चांपा से नारायण चंदेल
अकलतरा से सौरभ सिंह
जैजैपुर से सक्ती मेघराम साहू
चंद्रपुर से संयोगिता सिंह जूदेव
पामगढ़ से अंबेश जांगड़े
रायगढ़ से रोशनलाल अग्रवाल
खरसिया से ओमप्रकाश चौधरी
सारंगढ़ से केराबाई मनहर
धरमजयगढ़ से लीनफ राठिया
लैलूंगा कोरबा से विकास महतो
रामपुर से ननकी राम कंवर
कटघोरा से लखन देवांगन
पाली-तानाखार से रामदयाल उइके
अंबिकापुर से अनुराग सिंहदेव
सीतापुर से रामगोपाल भगत
प्रतापपुर से रामसेवक पैकरा
रामानुजगंज-सामरी से सिद्धनाथ पैकरा
लुंड्रा से विजय नाथ सिंह
भटगांव से रजनी त्रिपाठी
प्रेमनगर से बैकुंठपुर भैयालाल राजवाड़े
मनेंद्रगढ़ से श्याम बिहारी जायसवाल
भरतपुर सोनहत से चंपादेवी पावले
जशपुर से गोविंदराम
पत्थलगांव से शिवशंकर पैकरा
कुनकुरी से भरत साय

इन विधायकों का कट गया टिकट
मंत्री रमशीला साहू, चंद्रपुर विधायक युद्धवीर सिंह जूदेव, लैलूंगा से सुनीति राठिया, वैशालीनगर से विद्यारतन भसीन, तखतपुर से राजू क्षत्रीय, अंतागढ़ से भोजराज नाग और आरंग से नवीन मरक डेय का टिकट कटा है.

पहले चरण में 18 सीटों के लिए मतदान 
छत्तीसगढ़ में दो चरणों में चुनाव संपन्न होगा. प्रथम चरण में 12 नवंबर को 18 विधानसभा क्षेत्रों में तथा दूसरे चरण में 20 नवंबर को शेष 72 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा. प्रथम चरण में 12 नवंबर को बस्तर क्षेत्र के जिले बस्तर, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा में तथा राजनांदगांव की 18 सीटों के लिए मतदान होगा. राज्य की दोनों प्रमुख पार्टियां भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस ने अभी तक उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की है.

15 वर्षों से कांग्रेस सत्ता से बाहर
छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षों से कांग्रेस सत्ता से बाहर है तथा इस बार के चुनाव में वह सत्ता वापसी की कोशिश में है. उधर, भाजपा इस चुनाव में 65 से अधिक सीटों पर जीत के लक्ष्य के साथ चौथी बार सरकार बनाना चाहती है. राज्य में वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 90 सीटों में से 49 सीटों पर तथा कांग्रेस को 39 सीटों पर जीत मिली थी. वहीं एक एक सीटों पर बसपा और निर्दलीय विधायक हैं.

 

 


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें