Metoo को लेकर दायर याचिका पर आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट, की गई है य‍ह मांग

यह जनहित याचिका किसी महिला ने नहीं बल्कि एक वकील ने खुद दायर की है.

फाइल फोटो

नई दिल्‍ली :मीटू को लेकर दायर एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज (19 नवंबर) सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है, जिसमें मांग की गई है कि मीटू में किसी लड़की या महिला की जो भी कोई टिप्पणी आए उस पर संबंधित पुरुष के खिलाफ राष्ट्रीय महिला आयोग को खुद ही कार्रवाई करते हुए पुलिस में एफआईआर दर्ज करवानी होगी. इस मांग को पूरा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट महिला आयोग को आदेश जारी करे. यह जनहित याचिका किसी महिला ने नहीं बल्कि एक वकील ने खुद दायर की है.

बता दें कि इससे पहले 22 अक्‍टूबर को सुप्रीम कोर्ट में एक वकील की याचिका पर भी सुनवाई हुई थी. वकील ने एक जनहित याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की थी. लेकिन कोर्ट ने याचिका में की गई मांग को पूरा करने में अससमर्थता जताई थी. इस याचिका में मांग की गई थी कि इस संबंध में आए सभी मामलों में सुप्रीम कोर्ट स्वत: संज्ञान ले और पीड़ित महिलाओं के बयान दर्ज करके उसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाए. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस बात से साफ इनकार कर दिया.

बता दें कि अब तक देश में इस अभियान के तहत बहुत से मामले सामने आ चुके हैं. भले ही अभी किसी भी मामले पर कोर्ट का कोई फैसला सामने नहीं आया लेकिन सोशल लेवल पर जिन लोगों पर आरोप लगाए जा रहे हैं उनपर एक्शन लिए जा रहे हैं. जैसे हाल ही में कई महिलाओं द्वारा सेक्सुअल हैरेस्मेंट के आरोपों के बाद जाने माने म्यूजिक कंपोजर अनु मलिक को सोनी चैनल ने अपने शो ‘इंडियन आइडल 10’ से बाहर कर दिया.

वहीं अक्षय कुमार ने अपने डायरेक्टर साजिद खान को फिल्म से निकाल देने का निर्णय लिया था. इसी प्रकार विकास बहल पर जब कंगना रनौत के साथ कई महिलाओं ने उत्पीड़न के आरोप लगाए थे तो उन्हें अपनी 2 फिल्मों से हाथ धोना पड़ा.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें