अयोध्‍या LIVE : रामलला के दर्शन कर होटल लौटे उद्धव ठाकरे, 11 बजे करेंगे प्रेस कांफ्रेंस

शिवसेना प्रमुख ने शनिवार को अयोध्‍या के लक्ष्‍मण किला में संतों के साथ पूजा की थी.

फोटो ANI

नई दिल्‍ली/अयोध्‍या :आशीर्वाद उत्‍सव के लिए शनिवार को अयोध्‍या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने आज (25 नवंबर) भगवान राम के जन्‍मस्‍थान जाकर रामलला के दर्शन किए. उनके साथ उनकी पत्‍नी रश्मि ठाकरे और बेटे आदित्‍य ठाकरे भी मौजूद रहे. दर्शन करनेे के बाद वह होटल लौट चुके हैं. वह 11 बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. इसके बाद वह आज ही मुंबई के लिए रवाना हो जाएंगे.

शनिवार को उद्धव ठाकरे ने अयोध्‍या मे संतों से मुलाकात की थी. उन्‍होंने श्रीराम जन्‍मभूमि न्‍यास के अध्‍यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास को राम मंदिर के लिए चांदी की ईंट भेंट की थी.

उद्धव ठाकरे अपने परिवार के साथ शनिवार को अयोध्या पहुंचे थे. उन्‍होंने शाम को सरयू नदी किनारे आरती की. उनके साथ उनकी पत्नी और बेटे मौजूद थे. इससे पहले उन्होंने एक कार्यक्रम को संबोधित किया था. उद्धव ठाकरे ने मराठी शब्दों से अपने भाषण की शुरुआत की थी. उन्होंने कहा था कि मैं यहां सिर्फ भगवान राम के दर्शन करने आया हूं. अब मैं यहां बार-बार आऊंगा. इस देश का हर हिंदू चाहता है कि जहां भगवान राम का जन्मस्थल है, वहां मंदिर बनना चाहिए.

शनिवार को उद्धव ठाकरे ने श्रीराम जन्‍मभूमि न्‍यास के अध्‍यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास को चांदी की ईंट भेेंट की थी. फोटो PTI

आगे उन्होंने कहा कि याद उसे किया जाता है जिसे हम भूलते हैं. राम लला को हम कभी नहीं भूल सकते. हिंदुत्व हमारे खून में है. हमें आज मंदिर बनने की तारीख चाहिए. उद्धव ठाकरे ने कहा कि मैं अयोध्या राजनीति करने नहीं आया हूं. अब इस मामले में हिंदू चुप नहीं रहेगा. उन्होंने कहा कि जैसे सरकार ने नोटबंदी का फैसला लिया, उसी तरह राम मंदिर बनाने का भी फैसला लिया जाना चाहिए.

शिवसेना प्रमुख ने कहा, ‘हमें आज मंदिर बनाने की तारीख चाहिए. पहले मंदिर कब बनाओगे वह बताओ, बाकी बातें तो बाद में होती रहेंगी. आज मुझे तारीख चाहिए.’

बता दें शिवसेना ने शनिवार को यहां ‘आशीर्वाद उत्सव’ का आयोजन किया था. विहिप रविवार को धर्मसभा का आयोजन कर रही है. इसके लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी अयोध्‍या पहुंच गए हैं. अयोध्‍या हवाई पट्टी पर उनका शिवसैनिकों ने जोरदार स्‍वागत किया. पूरी हवाई पट्टी को फूलों से सजाया गया था. वह परिवार संग लक्ष्‍मण किला पहुंचे. वहां उन्‍होंने साधु-संतों से मुलाकात की.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें