शादियों में गाने वाले सलमान अली बने ‘इंडियन आइडल- 10’ के विजेता, रो पड़े घरवाले

सलमान अली शुरू से ही इस रियलिटी शो के सबसे पसंदीदा कंटेस्टेंट रहे.

सलमान अली शुरू से ही इस रियलिटी शो के सबसे पसंदीदा कंटेस्टेंट रहे (फोटो साभारः ट्विटर, इंडियन आइडल 2018)

नई दिल्ली: 2010-11 में जी टीवी के मशहूर प्रोग्राम ‘सारेगामापा लिटिल चैंप्स’ में रनअप रहे हरियाणा में मेवात के रहने वाले सलमान अली ने रियलिटी शो ‘इंडियन आइडल- 10′ का खिताब अपने नाम कर लिया है. सलमान अली शुरू से ही इस रियलिटी शो के सबसे पसंदीदा कंटेस्टेंट रहे. बता दें, शो में हुई लाइव वोटिंग के आधार पर सलमान अली को विनर घोषित किया गया. वहीं, दूसरे स्थान पर हिमाचल प्रदेश के अंकुश भारद्वाज और तीसरे स्थान पर नीलांजना रे रहीं. इस जीत के साथ ही सलमान को ट्रॉफी के अलावा 25 लाख रुपये और एक कार भी दी गई.

इंडियन आइडल- 10’ के फिनाले में ‘जीरो’ की टीम नजर आई, जहां शाहरुख खान, अनुष्का शर्मा और कटरीना कैफ ने लोगों का जमकर मनोरंजन किया. इनके अलावा शो के फिनाले में महान संगीतकार जोड़ी लक्ष्मीकांत प्यारेलाल के प्यारेलाल शर्मा, बप्पी लाहिरी और शिल्पा शेट्टी सहित कई दिग्गज कलाकार मौजूद थे. बता दें, इस साल जुलाई में शुरू किए गए इस शो के फाइनल राउंड में सलमान अली, नीलांजना रे, नितिन कुमार, विभोर पराशर और अंकुश भारद्वाज पहुंचे थे. वैसे तो इस शो का जिम्मा अनु मलिक, नेहा कक्कड़ और विशाल ददलानी को जज के रूप में दिया गया था, लेकिन मीटू अभियान के तहत संगीन आरोप लगाने के कारण अनु मलिक को यह शो बीच में छोड़ना पड़ा था और बाद में उनके जगह जावेद अली नजर आए.

(फोटो साभारः ट्विटर, इंडियन आइडल 2018)

सलमान अली की बता करें तो मेवात में इन्हें मलंग नाम से जाना जाता है और यह एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं. खबरों की मानें तो सलमान को जैसे विनर घोषित किया गया टीवी पर कार्यक्रम देख रहे उसके परिजन और आसपास के लोग खुशी से उछल पड़े. सलमान की जीत के साथ ही उनके घरवालों के पास दोस्तों और रिश्तेदारों के फोन आने लगे और उन्हें बधाइयां मिलने लगी. फिर क्या था सलमान के मां-बाप भावुक हो गए और उनके आंखों से खुशी के आंसू निकल पड़े. सलमान का परिवार मिरासी समाज से हैं, जो गाने-बजाने का काम करता है. ऐसे सलमान में गायकी की प्रतिभा बचपन से ही थी. छोटी सी उम्र में ही सलमान जागरणों में गाने लगे थे.

(फोटो साभारः ट्विटर, इंडियन आइडल 2018)

वहीं, शादियों में गाना बजाकर अपनी जिंदगी का गुजर बसर करने वाले सलमान के घरवालों ने कभी सोचा नहीं था कि एक दिन उनका बेटा इस मुकाम में पहुंच जाएगा. उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह अपने घरवालों के साथ-साथ अपने राज्य का भी नाम कुछ इस तरह रोशन करेगा. सलमान की इस सफलता के बाद पिता कासिम अली ने कहा कि उनको बेटे की काबलियत पर गर्व है.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें