क्रिकेट: टी20 के बाद आ रहा है 100 बॉल फॉर्मेट, जो बदल देगा पूरा खेल; जानें 10 नए नियम

नई दिल्ली: क्रिकेट ऐसा खेल है, जिसमें हम हर साल कुछ ना कुछ बदलाव देखते हैं. कुछ तो इतने सामान्य बदलाव होते हैं, जो कुछ सालों बाद याद भी नहीं रहते. जैसे कुछ साल पहले आया ‘सुपर-सब’ का नियम, जो चुपके से कब चला गया, ये पता ही नहीं चला. लेकिन कुछ बदलाव पूरे खेल का नक्शा ही बदल देते हैं. क्रिकेट में वनडे और टी20 फॉर्मेट ऐसे ही बदलाव थे. अब इस बदलाव में 100 बॉल क्रिकेट (100 Ball Cricket) भी जुड़ने जा रहा है.

इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत 1877 में हुई. इस साल इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच खेला गया. करीब 94 साल तक क्रिकेट में सिर्फ यही फॉर्मेट बना रहा. फिर वनडे क्रिकेट आया और 21वीं सदी में टी20 क्रिकेट ने बड़ी ताकत से अपनी जगह बनाई. इत्तफाक से क्रिकेट का जन्मदाता इंग्लैंड टेस्ट मैच की तरह पहले वनडे और पहले टी2 इंटरनेशनल मैच में भी शामिल था. अब वही इंग्लैंड 100 बॉल क्रिकेट लेकर आ रहा है. एक रिपोर्ट के मुताबिक तीन अक्टूबर को टीमों की घोषणा और खिलाड़ियों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो सकती है.

वैसे तो 100 बॉल क्रिकेट इंग्लैंड के घरेलू क्लब पहले से ही खेल रहे हैं. लेकिन इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट क्लब (ईसीबी) ने अब इसे व्यापक रूप देने का निर्णय लिया है. उसने इसके लिए पूरी योजना बनाई है. इंग्लैंड अब 100 बॉल क्रिकेट को टी20 क्रिकेट की तरह लोकप्रिय बनाना चाहता है. इसके लिए उसने अपने देश में आईपीएल की तर्ज पर 100 बॉल क्रिकेट की लीग कराने का निर्णय लिया है. इसमें क्रिस गेल, डेविड वार्नर से लेकर दुनियाभर के दिग्गज खेलते नजर आ सकते हैं.  प्रस्ताव के मुताबिक अगले साल जुलाई-अगस्त में इस फॉर्मेट की पहली लीग हो सकती है.

अगर आप 100 बॉल गेम को सिर्फ एक एक और फॉर्मेट के तौर पर देख रहे हैं, तो गलती कर रहे हैं. इसके कई ऐसे नियम हैं, जो मौजूदा क्रिकेट से काफी अलग हैं. यह तय मानिए कि जब यह फॉर्मेट व्यापक स्तर पर शुरू हो जाएंगे, तब आपको इनके नियम अलग से पढ़ने की जरूरत पड़ेगी. अभी टेस्ट, वनडे और टी20 क्रिकेट में एक ओवर 6 गेंदों का होता है. लेकिन 100 बॉल गेम में ऐसा नहीं होगा.

100 बॉल क्रिकेट के 10 नियम, जो एकदम नए हैं.
1. 
इस फॉर्मेट में हर टीम की पारी अधिकतम 100 गेंद की होती है. मैच में कुल 200 गेंदें फेंकी जाएंगी.
2. इस फॉर्मेट में एक ओवर छह गेंद का नहीं होगा.
3. एक गेंदबाज लगातार 10 या 5-5 गेंद के ब्रेकअप में गेंदबाजी करेगा.
4. एक गेंदबाज मैच में अधिकतम 20 गेंद करेगा. यानी, मैच में कम से कम 5 गेंदबाजों की जरूरत तो होगी.
5. बल्लेबाज 10 गेंद के बाद अपना क्रीज चेंज करेंगे. टेस्ट, वनडे और टी20 फॉर्मेट में हर ओवर के बाद ऐसा होता है.
6. बॉलिंग टीम को ढाई मिनट तक का स्ट्रेटजिक टाइम मिलेगा.
7. हर टीम के लिए 25 गेंद का पावरप्ले होगा.
8. पावरप्ले के दौरान 30 गज के सर्कल के बाहर सिर्फ दो फील्डर रहेंगे.
9. टीमें टाइमआउट कॉल करने में सक्षम होंगी. आईपीएल में भी यह नियम लागू है.
10. इसके आयोजकों ने सरल स्कोरबोर्ड बनाने की बात भी कही है. इसके बारे में ज्यादा कुछ नहीं बताया गया है.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें