MP: रजिस्ट्रार ऑफिस के बाहर किसान ने खाया जहर, अस्पताल लेकर पहुंचे SDM

छतरपुरः मध्य प्रदेश के छतरपुर के नौगांव तहसील में उस वक्त हंगामा हो गया, जब एक किसान ने रजिस्ट्रार ऑफिस के बाहर जहर खाकर अपनी जान देने की कोशिश की. किसान का नाम किशोरी लाल बताया जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक नौगांव तहसील के रजिस्ट्रार ऑफिस के बाहर किशोरी लाल ने सल्फास की गोली खा ली, जिससे ऑफिस से निकलते ही गेट के पास किसान की तबीयत बिगड़ गई. किसान की तबीयत बिगड़ते ही एसडीएम तहसीलदार किसान को लेकर अस्पताल पहुंच गए, जंहा डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसको जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया.

जानकारी के अनुसार अलिपुरा थाना क्षेत्र क्षेत्र के ग्राम पंचायत टीला का रहने वाला 40 वर्षीय किशोरी लाल रैकवार तहसील आया और रजिस्ट्रार के ऑफिस पहुंच कर बोला की हमारी जमीन की फर्जी तरीके से रजिस्ट्री हुई है. हमने अपनी जमीन गाने रखी थी, इतना कहते ही किशोरी ऑफिस से बाहर निकला और पेंट की जेब में रखा जहरीला पदार्थ खाकर तहसील कार्यालय से बाहर आने लगा तो कार्यालय के गेट के पास बेहोश होकर गिर गया. किसान के अचानक गिरते ही वंहा पर मौजूद लोगों की भीड़ इकठ्ठा हो गई और किसान को देखने लगे.

इसकी सूचना जैसे ही एसडीएम तहसीलदार को लगी, तो वह अपने-अपने चैम्बर से निकल कर कार्यालय के गेट पर आए और वंही पर खड़े एक प्राइवेट वाहन से किसान को अस्पताल लेकर पहुंचे, जंहा किशोरी की जेब से सल्फास की गोलियों की डिब्बी मिली. वहीं किसान की पत्नी ने आरोप लगाया है कि गांव के एक दबंग प्रबंल प्रताप सिंह ने 11 अगस्त फर्जी तरीके से उसकी जमीन की रजिस्ट्री करा ली है. तभी से उसका पति परेशान था और अधिकारियों के चक्कर लगा रहा था. SDM मामले की गंभीरता समझते हुए पूरे मामले की जांच के आदेश कर दिए हैं.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें