रौबदार पुलिस अफसर से सुपरस्टार बने थे राजकुमार, लवस्टोरी भी है पूरी फिल्मी

नई दिल्ली: ‘जानी…’ आज भी जब कोई इस शब्द को बोलता है तो सबके जहन में सीधे एक ही सुपरस्टार का चेहरा उभर आता है. सिर्फ यही नहीं राजकुमार ने ड्रेसिंग सेंस से लेकर बॉलीवुड के हीरो के अंदाज तक को बदल दिया था. बॉलीवुड को कई दमदार डायलॉग्स और अलहदा अंदाज देने वाले राजकुमार का आज 97वां जन्मदिन है. आइए इस खास मौके पर जानते हैं मुंहफट और रॉयल एटिट्यूड वाले इस सुपरस्टार के जीवन की कुछ स्पेशल बातें…

पूरी फिल्म इंडस्ट्री में यह बात राजकुमार के जाने के सालों बाद भी फेमस है कि वह रील लाइफ में जितना बेबाक थे, रियल राइफ में भी उतने ही मुंहफट थे. उनके तंज भी ऐसे होते थे जो लोगों को सालों साल याद आते रहते थे. अमिताभ बच्चन हों या गोविंदा उनकी बेबाकी से कोई बच नहीं सका.

पहले थानेदार फिर सुपरस्टार
राज कुमार का जन्म पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में 8 अक्टूबर 1926 को हुआ. उनका असली नाम कुलभूषण पंडित था. वह बंटवारे के समय से पहले ही 1940 में बलूचिस्तान से मुंबई आए. स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद मुंबई के माहिम थाने में सब इंस्पेक्टर (थानेदार) के रूप में काम करने लगे.

लेकिन इस रौबदार पुलिस अफसर की किस्मत में तो कुछ और ही लिखा था. राजकुमार मुंबई के जिस थाने में पोस्टेड थे वहां अक्सर फिल्म इंडस्ट्री के लोग आया जाया करते थे. ऐसे में एक बार फिल्म निर्माता बलदेव दुबे कुछ किसी काम के सिलसिले में पुलिस स्टेशन आए और राजकुमार के बात करने और रहन सहन के अंदाज से प्रभावित हो गए. उन्होंने बिना देर किए राजकुमार को अपनी फिल्म में काम करने का ऑफर दिया. जिसे राजकुमार ने तुरंत मान लिया और नौकरी से इस्तीफा देकर फिल्म करनी शुरू कर दी.

प्लेन में हुआ इश्क 
एक बार हवाई सफर के दौरान राजकुमार और उनकी पत्नी जेनिफर की मुलाकात हुई. वह इस प्लेन में एक फ्लाइट अटेंडेंट के तौर पर काम कर रही थीं, यह पहली नजर का प्यार शादी तक पहुंचा और जेनिफर ने अपना नाम बदलकर ‘गायत्री’ रख लिया. इन दोनों के 3 बच्चे हुए, जिनमें 2 बेटे पुरू राजकुमार, पाणिनी राजकुमार और 1 बेटी वास्तविकता राजकुमार हैं.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें