MP: धार मॉब लिंचिंग केस में अब तक 6 गिरफ्तार, 4 को भेजा गया जेल

धार: मध्य प्रदेश के धार में हुई मॉब लिंचिंग की घटना के बाद पुलिस आरोपियों की धरपकड़ में जुटी हुई है. आज पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिसके बाद अब मामले में गिरफ्तार आरोपियों की संख्या 6 हो गई है. वहीं, चार आरोपियों को आज धार न्यायालय में पेश किया गया. जहां से सभी को जेल भेज दिया गया है. वहीं, अब तक कुल 15 लोगों को वीडियो फुटेज के आधार पर चिन्हित किया जा चुका है. बता दें कि, मामले में 5 पुलिस कर्मियों को भी लापरवाही बरतने के चलते सस्पेंड किया जा चुका है. दरअसल, बुधवार शाम धार में मनावर के खरिकिया गांव में बच्चा चोरी की अफवाह के बाद भीड़ ने 6 लोगों पर लाठी-डंडों और पत्थरों से हमला कर दिया था. इसमें एक शख्स की मौत हो गई थी जबकि 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

जानिए क्या थी यह पूरी घटना
उज्जैन जिले के लिंबा पिपलिया गांव के पांच खेत मालिकों ने खड़किया के अवतार सिंह, राजेश, जामसिंह, सुनील और महेश को मजदूरी के लिए रखा था. इनको खेत मालिकों ने 50-50 हजार रुपए एडवांस भी दिए थे. कुछ दिन मजदूरी के बाद ये लोग भाग गए. बकाया राशि लेने के लिए खेत मालिक जगदीश, नरेंद्र, विनोद और ड्राइवर गणेश दो कारों में सवार होकर बुधवार सुबह खड़किया पहुंचे थे.
ग्रामीणों ने पत्थरों से उन पर हमला कर दिया. ये सभी अपनी जान बचाकर मनावर के बोरलाय गांव पहुंचे. ग्रामीणों ने फोन कर गांव में अफवाह फैला दी कि ये सभी बच्चा चोरी कर भागे हैं. हाट बाजार होने से बोरलाय में काफी भीड़ थी. भीड़ ने इन सभी की गाड़ियां देखते ही लाठी और पत्थरों से उन पर हमला कर दिया.
करीब 500 से ज्यादा लोगों की भीड़ ने इन सभी को बेरहमी से पीटा. कार चालक गणेश (38) को बड़वानी रेफर किया गया, जहां उपचार के दौरान मौत हो गई. जबकि, जगदीश (45), नरेंद्र (42), विनोद (43), रवि (38) को इंदौर के एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें