मात्र 4 घंटे में पहुंच जाएंगे दिल्ली से अमृतसर, जानिए इस नए हाइवे की शानदार बातें

 

नई दिल्ली: अभी तक आप 4 घंटे में सिर्फ दिल्ली से चंडीगढ़ तक का ही सफर कर सकते हैं. लेकिन अगर हम कहें कि मात्र इतने ही घंटे में आप दिल्ली से अमृतसर जा सकते हैं तो क्या आप यकीन करेंगे? लंबे रास्ते को देखते हुए इस पर यकीन कर पाना मुश्किल है लेकिन ये बात अब सच होने वाली है. जी हां, अब आप मात्र 4 घंटे में दिल्ली से अमृतसर का रास्ता तय कर पाएंगे.

सिग्नल फ्री होगा नया हाईवे
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने दिल्ली-अमृतसर एक्सप्रेसवे (Delhi-Amritsar Expressway) के तहत अमृतसर तक नये संपर्क मार्ग की घोषणा की है. यह मार्ग नाकोदर से होकर सुल्तानपुर लोधी, गोइंडवाल साहिब, खदूर साहिब से होकर गुजरेगा. इससे पंजाब के लोगों की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी हो सकेगी. अमृतसर से गुरदासपुर मार्ग का भी पूर्ण विकास किया जाएगा और इसे ‘सिग्नल फ्री’ किया जाएगा.

25,000 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा प्रोजेक्ट
इस एक्सप्रेसवे (Expressway) के बनने से अमृतसर से दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (Delhi IGI) तक का यात्रा समय घटकर चार घंटे रह जाएगा. अभी इसमें आठ घंटे लगते हैं. हमारे सहयोगी zeebiz.com के अनुसार पहले चरण के एक्सप्रेसवे के निर्माण पर 25,000 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे (Delhi-Amritsar-Katra Expressway) के हिस्से के रूप में अमृतसर तक एक नया मार्ग बनाया जाएगा. यह मार्ग नाकोदर से होकर सुल्तानपुर लोधी, गोइंडवाल साहिब, खदूर साहिब से होकर गुजरेगा. उन्होंने कहा कि प्रस्तावित एक्सप्रेस-वे सिखों के पांच गुरुओं से जुड़े शहरों को जोड़ेगा.

यह नया मार्ग सिर्फ अमृतसर (Amritsar) तक छोटा रास्ता ही नहीं उपलब्ध कराएगा, बल्कि अन्य धार्मिक स्थलों मसलन सुल्तानपुर लोधी, गोइंडवाल साहिब, खदूर साहिब के अलावा हाल में विकसित डेरा बाबा नानक- करतारपुर साहिब अंतरराष्ट्रीय गलियारे को भी संपर्क उपलब्ध कराएगा.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने कहा कि वह भारतमाला परियोजना (Bharatmala Project) के तहत दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे का विकास कर रहा है.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें