पीएनबी फर्जीवाड़ा: दिल्ली हाईकोर्ट ने मेहुल चोकसी की कंपनी की याचिका पर ईडी से मांगा जवाब

हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स ने दायर की है याचिका. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुई करीब 11,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से संबंधित धन शोधन के एक मामले में हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स की याचिका पर शुक्रवार (6 अप्रैल) को प्रवर्तन निदेशालय से जवाब मांगा. याचिका में आरोप लगाया गया है कि जांच एजेंसी ने कंपनी के दस्तावेज और सामान गैरकानूनी तरीके से जब्त किए हैं. न्यायमूर्ति एस मुरलीधर और न्यायमूर्ति आई एस मेहता की पीठ ने जांच एजेंसी ने इस मामले में ईडी को नोटिस जारी किए. अदालत में डीडी की तरफ से अधिवक्ता अमित महाजन खड़े थे.

अदालत अब इस मामले पर आगे 11 अप्रैल को सुनवाई करेगी. गीतांजलि जेम्स की तरफ से पेश अधिवक्ता संजय एबॉट ने कंपनी की चल संपत्ति को कुर्क किए जाने के निदेशालय के कदम को अमान्य घोषित करने का निर्देश जारी किए जाने का अनुरोध किया. कंपनी ने अदालत से अनुरोध किया है कि प्रवर्तन निदेशालय को 22 फरवरी के तलाशी वारंट की नकल, उसके परिसरों पर छापे के आधार पर तैयार की गयी जांच रपट (ईसीआईआर) और उसकी परिसंपत्तियों को सुरक्षित रखे जाने वाले स्थानों और सारे दस्तावेजों की प्रतिलिपि मुहैया कराने का भी निर्देश देने के लिए कहा.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें