हक छिनने से नाराज आयुष जूडा ने निकाली रैली

नियुक्ति में बोनस अंक का विरोध
सच प्रतिनिधि ॥ भोपाल
लंबे समय बाद प्रदेश में की जा रही आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों की भर्ती में संविदा पर कार्यरत चिकित्सकों को बोनस अंक देने का जूनियर आयुर्वेद डाक्टर्स एसोसिएशन ने विरोध किया है। प्रदेश के नाराज जूनियर आयुर्वेद डाक्टर्स डिपो चौराहे से लेकर मानव संग्रहालय तक रैली निकाली। आयुष जूडा डिपो चौराहा पर एकत्र हुए और सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिए रैली निकाल कर बोनस अंक का प्रावधान खत्म करने की मांग की। उनका कहना था कि इस दिशा में शीघ्र ही संशोधित आदेश जारी नहीं किया गया तो क्रमिक भूख हड़ताल की जाएगी। विरोध प्रदर्शन करने वालों में डा. भरत ठाकुर, डा. नीरज, डा. राहुल शर्मा, डा. हरिशंकर उपाध्याय सहित कई जूनियर डाक्टर शामिल थे। एसोसिएशन आफ जूनियर आयुर्वेद डाक्टर्स का कहना है कि हाल ही में पीएससी के माध्यम से प्रदेश में आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारियों के 668 पदों पर भर्ती की जा रही है। सरकार द्वारा इस भर्ती में पहले से संविदा पर काम कर रहे आयुर्वेद चिकित्सकों को 60 बोनस अंक देने का प्रावधान किया गया है। अगर इस पर अमल हुआ तो एक भी नए डाक्टर का चयन इसमें नहीं हो सकेगा। उन्होंने बताया कि भर्ती नियमों में किसी को भी बोनस अंक देने का प्रावधान नहीं है इसके बावजूद इस तरह की व्यवस्था कर नौजवान बेरेजगारों का अधिकार छीना जा रहा है।


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें