अमेरिका ने पाकिस्तान को दी नसीहत- बिना भेदभाव के आतंकियों के खिलाफ करो कार्रवाई

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने गुरुवार (7 जून) को कहा कि पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से बिना किसी भेदभाव के आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा.

पाकिस्तान ने पिछले महीने अपने देश में रह रहे अमेरिकी राजनयिकों पर यात्रा पाबंदी लगा दी थी.(फाइल फोटो)

वॉशिंगटन / इस्लामाबाद:  गुरुवार (7 जून) को कहा कि पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से बिना किसी भेदभाव के आतंकवादी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा. दोनों देशों द्वारा एक-दूसरे के राजनयिकों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद से दोनों पक्षों के बीच पहली बार उच्चस्तरीय बातचीत हुई है. उनके प्रवक्ता ने बताया कि पोम्पियो ने बाजवा से फोन पर बातचीत की. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हीथर नौअर्ट ने कहा, ‘‘उन्होंने अमेरिका-पाकिस्तान द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के उपायों, अफगानिस्तान में राजनैतिक सुलह की आवश्यकता और बिना किसी भेदभाव के दक्षिण एशिया में सभी आतंकवादियों और आतंकवादी समूहों को निशाना बनाने के महत्व पर चर्चा की.’’

राष्ट्रपति ट्रंप ने पद संभालने के बाद से इस्लामाबाद की आलोचना तेज कर दी 
अमेरिका और अन्य देश लंबे समय से इस बात की शिकायत करते रहे हैं कि पाकिस्तान , अफगान तालिबान और उसके सहयोगियों, हक्कानी नेटवर्क को पनाह देता है और अफगानिस्तान में सीमा पार से हमला करने की अनुमति देता है. पाकिस्तान इन आरोपों का खंडन करता है , लेकिन राष्ट्रपति ट्रंप ने पद संभालने के बाद से इस्लामाबाद की आलोचना तेज कर दी है.

पाकिस्तान ने पिछले महीने अपने देश में रह रहे अमेरिकी राजनयिकों पर यात्रा पाबंदी लगा दी थी. यह पाबंदी उसी दिन लगाई गई थी जब अमेरिका ने वाशिंगटन स्थित पाकिस्तानी दूतावास में काम करने वाले राजनयिकों के शहर के 25 मील की परिधि के बाहर बिना मंजूरी के यात्रा करने पर रोक लगा दी थी.

पाकिस्तान के जरिये अफगानिस्तान को रसद एवं सैन्य सामग्री की आपूर्ति नहीं रुकी
वहीं दूसरी ओर अमेरिकी ने कहा है कि पाकिस्तान के माध्यम से अफगानिस्तान को रसद एवं अन्य जरूरी सैन्य सामग्री ले जाने के जमीनी रास्ते को बंद नहीं किया गया है. अमेरिकी रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन ने यह जानकारी दी.ज्वॉइंट स्टाफ डायरेक्टर लेफ्टिनेंट जनरल केनेथ एफ मैककेंजी ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया, ‘‘उन्होंने (पाकिस्तान ने) दक्षिण से रसद एवं सैन्य सामग्री ले जाने के लिये जमीनी रास्ते या पश्चिम पाकिस्तान के ऊपर से हवाई मार्ग से इनकी आपूर्ति बंद करने के लिये कुछ नहीं किया है.’’

मैककेंजी, पाकिस्तान के विदेश मंत्री के उस हालिया साक्षात्कार पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने (पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने) कहा था कि अमेरिका पाकिस्तान के साथ जिस तरह का बर्ताव कर रहा है उससे उनकी सरकार (पाकिस्तान की) आहत है और इसलिए वे अमेरिकी आपूर्ति लाइन से अफगानिस्तान को होने वाली आपूर्ति बंद करने पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं.


facebook - जनसम्पर्क
facebook - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
twitter - जनसम्पर्क
twitter - जनसम्पर्क - संयुक्त संचालक
जिला प्रशासन इंदौर और शासन की दैनंदिन गतिविधियों और अपडेट के लिए फ़ॉलो करें